“लकी ग्राहक योजना” की प्रमुख शर्तों के बारे में जानें

“लकी ग्राहक योजना” में Lucky Draw के लिए राशि की सीमा :-

Lucky Grahak Yojna को निम्न, मध्यम और गरीब वर्ग के बीच डिजिटल भुगतान (Digital Payment) को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया है | इसलिए, यहाँ लेन-देन के लिए कोई ऊपरी सीमा (upper limit) नहीं है |लेकिन डिजिटल और कार्ड से 3000 रुपये से अधिक भुगतान करने वाले ग्राहक Lucky Draw के पात्र नहीं होंगे | जबकि Lucky Draw का पात्र होने के लिए न्यूनतम सीमा 50 रुपये तय की गई है | इस प्रकार इस सीमा के बीच हर लेनदेन के लिए ग्राहक Lucky Draw के लिए पात्र होगा |

 

आप डिजिटल भुगतान (Digital Payment) का उपयोग जितना अधिक करेंगे पुरस्कार (award) पाने का मौका उतना अधिक होगा | इस योजना का पात्र होने के लिए आपको अपने लेनदेन को 3000 रुपए तक सीमित करना चाहिए |अगर आपका Bill इससे अधिक है, तो आप इसे विभाजित (split) कर सकते हैं |

“लकी ग्राहक योजना” में लेन-देन का समय :-

Lucky Grahak Yojna” back date से लागू होगी | 8  नवंबर 2016 से 13 अप्रैल 2017 तक डिजिटल भुगतान करने वाले सभी ग्राहक लकी ड्रा के लिए पात्र होंगे |

Lucky Draw 25 दिसंबर 2016 से शुरू होगा | यह 100 से अधिक दिन अर्थात 13 अप्रैल 2017 तक चलेगा |

“लकी ग्राहक योजना” के लिए अन्य शर्तें :-

डिजिटल भुगतान (Digital Payment) व्यक्तिगत उपभोग (personal consumption) की वस्तुओं के लिए ही होना चाहिए |व्यावसायिक प्रयोजनों के लिए किये गए कोई भी डिजिटल भुगतान (Digital Payment) इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे |

 

उपभोक्ताओं और व्यापारियों के बीच सभी लेनदेन; उपभोक्ताओं और सरकारी एजेंसियों और सभी AEPS लेनदेन विचारणीय होंगे |

एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति को fund transfer करने वाले ग्राहक भी Lucky Draw के लिए पात्र नहीं होंगे |हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि सरकार एक व्यापारी और आम आदमी के बीच अंतर कैसे करेगी |

“लकी ग्राहक योजना” काम कैसे करती है :-

  • यह योजना भी NPCI द्वारा आयोजित की जाएगी जैसे UPI, USSD , AEPS और RuPay लेनदेन NPCI के माध्यम से चलाये जा रहे हैं |
  • NPCI Lucky Draw के लिए लेन-देन की आईडी (Transaction ID) का प्रयोग करेगी |
  • आपको इस लकी ड्रा के लिए कुछ भी करने की जरूरत नहीं है |NPCI खुद Lucky Draw के लिए आपके लेनदेन आईडी (Transaction ID) का प्रयोग कर लेगी |
  • विजेताओं की पहचान eligible Transaction IDs के random draw के माध्यम से जाएगी | Transaction पूरा होने पर ये ID स्वचालित रूप से स्वयं ही उत्पन्न होती हैं |
  • NPCI इस Lucky Draw के लिए विशेष रूप से विकसित Software का उपयोग करता है |
  • NPCI इस प्रक्रिया की तकनीकी और सुरक्षा को सुनिश्चित करता है |
  • नीति आयोग इस Lucky Draw योजना की निधि होगा | इस योजना की कुल लागत 340 करोड़ रुपये होगी |

“लकी ग्राहक योजना” में कौन भाग ले सकता है :-

हर बैंक खाता धारक इस “लकी ग्राहक योजना” में भाग ले सकते हैं | आप निम्नलिखित में से किसी भी mode से Digital Payment कर सकते हैं :-

  • यदि आपके पास Internet और Smartphone है, तो आपको  UPI का उपयोग करना चाहिए | यह भुगतान का सबसे आसान तरीका है |
  • दुकान या व्यापारी को भुगतान करने के लिए आप अपने RuPay डेबिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं | भारत में 30 करोड़ से अधिक RuPay डेबिट कार्ड हैं |
  • Feature phone उपयोगकर्ता USSD बैंकिंग के लिए * 99 # डायल कर सकते हैं | यह उन लोगों के लिए उपयोगी है जो Smartphone और Internet का उपयोग नहीं करना जानते |
  • दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले लोग AEPS का उपयोग कर सकते हैं | यह Micro ATM या Micro POS पर काम करता है |

UPI के माध्यम से “लक्की ग्राहक योजना” में कैसे भाग ले सकते हैं :-

  • किसी भी UPI Enabled Bank App में अपना VPA (Virtual Payment Address) बनाए |
  • उसे अपने बैंक खाते के साथ Link करें और लेनदेन पिन (Transaction Pin) Set करें |
  • अपने पास के दुकान, जहां आप नकद भुगतान करते हैं उसे भी उनके बैंक का VPA बनाने के लिए कहें |
  • दुकान के मालिक को उनकी VPA के लिए नाम और VPA दर्ज करके QR Code उत्पन्न करने के लिए कहें | www.upiqr.in
  • उत्पन्न QR Code के Print को VPA के रूप में दुकान के भुगतान डेस्क पर प्रदर्शित करें  |
  • अब हर बार जब आप कुछ खरीदते हैं, उसकी VPA address या ‘Scan & Pay’ का उपयोग कर अपने UPI App से भुगतान करें |
  • अब UPI का उपयोग कर उपभोक्ता और व्यापारी के बीच 50 – 3000 रुपये के बीच का लेनदेन ‘लकी ग्राहक योजना’ के साथ ही  ‘डिजी धन व्यापारी योजना’ के लिए पात्र है |
loading...

कृपया अपनी प्रतिक्रिया दें